बाजार में अक्सर आपने देखा होगा कि फलों के उपर स्टीकर लगे होते हैं । हम उन्हें देखते तो है लेकिन कंपनी या अन्य प्रकार का स्टीकर सझकर अनदेखा कर देते हैं लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि यह स्टीकर बहुत महत्वपूर्ण होते हैं जिसके बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए । दरअसल फलों पर लगे स्टीकर पर दाम, एक्सपायरी डेट या फिर पीएलयू कोड(PLU) होता है जो कि निर्देशित करते हैं कि यह फल किस प्रकार का है और इसकी गुणवत्ता कितनी है । आइये फलों पर लगे स्टीकर के बारे में विस्तार से जानते हैं

9 अंको का कोड – अगर फलों पर लगे स्टीकर पर 5 अंको का कोड 9 नंबर से शुरु होता है तो (जैसे 90123) तो वह फल जैविक तरीके से उगाया गया होता है जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं ।

8 अंको का कोड – अगर फलों पर लगे स्टीकर पर 5 अंकों का कोड 8 से शुरु होता है (जैसे 80123) तो इसका मतलब वह जैविक रुप से उगाया गया है लेकिन इसे अनुवांशिक बदलाव किया गया है ।

4 अंको का कोड – अगर फलों पर स्टीकर पर लगा कोड 4 अंकों का है (जैसे 4012) तो वह फल रासायनिक तरीके के उगाया गया है जिसमें कीटनाशक और रसायन का इस्तेमाल किया गया हो । यह फल आर्गेनिक फलों की तुलना में सस्ते होते हैं लेकिन यह हमारी सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.