About Hindi Dharm in Hindu

बचपन से ही आप भी सुनते आ रहे होंगे की हिंदू धर्म में कुल 33 करोड़ देवी-देवता है. लेकिन वेदों के आधार पर देखा जाए तो ऐसा नहीं हैं. वेद में 33 कोटि देवी-देविताओं का उल्लेख है.

कोटि का अर्थ समझे तो संस्कृत में इसका मतलब दो तरह का होता है.

“कोटि” का अर्थ “प्रकार” भी होता है और “करोड़” भी


यानि इस भ्रम में लोगों ने देवी-देवताओं को 33 करोड़ मानना शुरु कर दिया.

33 प्रकार के देवी-देवताओं का विवरण निम्न प्रकार हैं …

12 प्रकार हैँ –
आदित्य , धाता, मित, आर्यमा, शक्रा, वरुण, अँशभाग, विवास्वान, पूष, सविता, तवास्था, और विष्णु ।

8 प्रकार हैं –
वासु:, धरध्रुव, सोम, अह, अनिल, अनल, प्रत्युष और प्रभाष ।

11 प्रकार हैं –
रुद्र: ,हरबहुरुप, त्रयँबक, अपराजिता, बृषाकापि, शँभू, कपार्दी, रेवात, मृगव्याध, शर्वा, और कपाली ।

2 प्रकार हैं –
अश्विनी और कुमार ।

कुल मिलाकर हुए-
12+8+11+2=33 कोटि

Leave a Reply

Your email address will not be published.