महिला समानता दिवस(Women’s Equality Day) हर वर्ष 26 अगस्त को मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य महिलाओं को समानता का दर्जा दिलाना है। सबसे पहले 1893 में न्यूजीलैंड ने इसकी शुरुआत की थी। महिलाओं को समानता का दर्जा दिलाने के लिए लगातार संघर्ष करने वाली एक महिला वकील बेल्ला अब्ज़ुग के प्रयास से 1971 से 26 अगस्त को ‘महिला समानता दिवस’ के रूप में मनाया जाने लगा।

5 quotes from famous feminists on Women’s Equality Day

स्त्री पर सुविचार

समाज कहती है स्त्री है
तुम सीता का फर्ज निभाओ,
मैं कहती हूं हर फर्ज का कर्ज उदा करेंगे हम
पहले हमें कोई राम जैसा मर्द से तो मिलाओ।

महिला पर शायरी

उस समाज में महिलाओं का
सम्मान कैसे बढ सकता है,
जहां दो पुरुषों की लडाई में
गालियां मां-बहनों की दी जाती है।

मर्दानगी का सबसे ऊंचा स्तर
यह है कि पुरुष के कारण
महिला की आंख में
आंसू न आये

कुछ लोग कहते हैं कि
औरत का कोई घर नहीं होता,
लेकिन औरत के बिना कोई घर
घर ही नहीं होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.